प्रयागराज में कथित तौर पर ‘दहेज के कारण’ दुल्हन की मौत और उसका भयानक बदला

प्रयागराज में एक ऐसी भयावाह त्रासदी हुई है, जिसमें दो परिवार तबाह हो गए. इसकी वजह से तीन लोगों की मौत हुई और सात लोगों को जेल जाना पड़ा है.

उत्तर प्रदेश के प्रयागराज (इलाहाबाद) में 18 मार्च को ऐसी घटना हुई, जिसने शहर के दो मध्यमवर्गीय मोहल्लों के बाशिंदों को हिलाकर रख दिया है.

(चेतावनी: इस रिपोर्ट में कई ऐसी बातों का ज़िक्र है, जिनसे कुछ लोग विचलित हो सकते हैं.)

शिवानी केसरवानी बताती हैं, ”उस दिन रात के 11 बजे का वक़्त रहा होगा, जब 60-70 लोगों ने हमारे घर पर हमला किया था. उन्होंने हमें बड़ी बेरहमी से मारना-पीटना शुरू कर दिया.”शिवानी कहती हैं कि ये हमलावर उनके भाई अंशु की पत्नी अंशिका के परिवार के सदस्य और रिश्तेदार थे

हमले से कुछ घंटों पहले ही अंशिका का शव, अपनी ससुराल में फाँसी के फंदे से लटकता हुआ मिला था.

शिवानी और पुलिस का कहना है कि अंशिका की मौत ख़ुदकुशी की वजह से हुई थी. लेकिन, अंशिका के परिजन और पड़ोसियों का इल्ज़ाम है कि दहेज के लिए उनकी हत्या कर दी गई थी.

(आत्महत्या एक गंभीर मनोवैज्ञानिक और सामाजिक समस्या है.

अगर आप भी तनाव से गुज़र रहे हैं तो भारत सरकार की जीवनसाथी हेल्पलाइन 18002333330 से मदद ले सकते हैं. आपको अपने दोस्तों और रिश्तेदारों से भी बात करनी चाहिए.)

आवाज़ लगाई पर जवाब नहीं मिला’

वो राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय ख़बरें जो दिनभर सुर्खियां बनीं.

दिनभर: पूरा दिन,पूरी ख़बर

समाप्त

केसरवानी परिवार का लकड़ी का ख़ानदानी कारोबार है और वो संयुक्त परिवार में रहते हैं.

उनके मकान के ग्राउंड फ्लोर और बेसमेंट में दुकान और गोदाम था. ऊपरी मंज़िलों पर केसरवानी परिवार रहता था.

मकान की हर मंज़िल पर एक बेडरूम था. एक साल पहले शादी होने के बाद से अंशु अपनी पत्नी के साथ इसके टॉप फ्लोर पर रह रहे थे. उनके माता-पिता इसी मकान की पहली मंज़िल पर और बहन शिवानी दूसरी मंज़िल पर रहा करते थे.

उस रात के बारे में शिवानी ने बीबीसी को बताया, ”अंशिका आम तौर पर रात को आठ बजे डिनर के लिए अपने बेडरूम से नीचे आया करती थी. लेकिन, उस रात वो डिनर के लिए नीचे नहीं आई, तो हमें लगा कि हो सकता है कि वो सो गई हो.’

शिवानी ने बताया कि जब उनके भाई रात दस बजे दुकान से घर लौटे, तो वो अपनी पत्नी को बुलाने के लिए कमरे में गए.

शिवानी बताती हैं, ”भइया ने कई बार दरवाज़ा खटखटाया. मोबाइल पर कॉल किया. लेकिन, कोई जवाब नहीं मिला. तब उन्होंने कमरे के ऊपर बनी कांच की खिड़की तोड़कर दरवाज़ा खोला, तो अंशिका उन्हें फंदे से लटकती दिखी. भइया ज़ोर से चीखे. चीख सुनकर हम सब ऊपर की ओर भागे.”

अंशु और उनके चाचा ने फ़ौरन अंशिका की मौत की ख़बर नज़दीकी पुलिस थाने को दी, जो उनके घर से आधे किलोमीटर से भी कम दूरी पर है. उन्होंने अंशिका के परिवार को भी इस हादसे की ख़बर दे दी.

पुलिस का कहना है कि एक घंटे भी नहीं गुज़रे होंगे कि अंशिका के परिजन अपने दर्जनों रिश्तेदारों के साथ जमा हो गए और दोनों परिवारों के बीद भयंकर झगड़ा शुरू हो गया.

शिवानी ने अपने मोबाइल फ़ोन में हमें वो वीडियो दिखाए, जिसमें दोनों पक्षों के लोग एक दूसरे के ऊपर चीख़-चिल्ला रहे थे और लकड़ी के डंडों से मार-पीट कर रहे थे. वीडियो में दोनों पक्षों के बीच में एक पुलिसवाला भी खड़ा दिख रहा है, जो दोनों पक्षों को शांत कराने की नाकाम कोशिश कर रहा है

जब अंशिका का शव घर से बाहर निकाला गया, तो इल्ज़ाम है कि उनके परिवार वालों ने घर को आग लगा दी.

मकान के ग्राउंड फ्लोर और बेसमेंट में रखी लकड़ी में आग भड़क उठी. शिवानी, उनके माता-पिता और चाची इस आग में फँस गए.

शिवानी और उनकी चाची तो दूसरी मंज़िल की खिड़की तोड़कर रेंगते हुए पड़ोस के मकान में चली गईं, जो उनके चाचा का था. लेकिन, शिवानी के माता-पिता इतने ख़ुशक़िस्मत नहीं थे.

फायर ब्रिगेड की टीम तीन घंटे की मशक़्क़त के बाद इस आग को बुझा सकी. उसके बाद जब वो रात के लगभग तीन बजे इमारत में दाख़िल हुए, तो उन्हें शिवानी के बुज़ुर्ग मां-बाप का जला हुआ शव मिला.

अपने आंसू पोछते हुए शिवानी बताती हैं, ”मेरी मां सीढ़ियों पर बैठी मिली. उन्हें बोरे में भरकर पोस्टमॉर्टम के लिए ले जाया गया था.”

  • S S VERMA

    Related Posts

    #Himachal News || खीरगंगा ट्रैक पर निकली महिला की हादसे में मौत, स्थानीय लोगों ने की मदद

    हिमाचल प्रदेश के जिला कुल्लू में दो हादसों में एक महिला सहित दो लोगों की मौत हुई है। पहले मामले में  के खीरगंगा ट्रैक पर निकली कांगड़ा की एक महिला की…

    #प्रबीर पुरकायस्थ की गिरफ़्तारी को अवैध ठहराने से क्या कुछ बदलेगा?

    भारत की सर्वोच्च अदालत के आदेश के बाद बुधवार को न्यूज़क्लिक वेबसाइट के एडिटर-इन-चीफ़ प्रबीर पुरकायस्थ जेल से रिहा हो गए. अदालत के मुताबिक़ पुरकायस्थ को उनकी गिरफ्तारी के आधार…

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    You Missed

    #स्वाति मालीवाल का ‘राजनीतिक हिटमैन’ की ओर इशारा, आतिशी बोलीं – ‘स्वाति हैं बीजेपी के षड्यंत्र का चेहरा’

    #स्वाति मालीवाल का ‘राजनीतिक हिटमैन’ की ओर इशारा, आतिशी बोलीं – ‘स्वाति हैं बीजेपी के षड्यंत्र का चेहरा’

    #Tata की दुकान पर ताला लगायेगी Mahindra की नई Bolero, ताकतवर इंजन और तूफानी फीचर्स के साथ देखे कीमत

    #Tata की दुकान पर ताला लगायेगी Mahindra की नई Bolero, ताकतवर इंजन और तूफानी फीचर्स के साथ देखे कीमत

    #OnePlus के होश ठिकाने लगा देंगा Samsung का शानदार स्मार्टफोन, 108MP फोटू क्वालिटी देख हो जायेंगे दीवाने

    #OnePlus के होश ठिकाने लगा देंगा Samsung का शानदार स्मार्टफोन, 108MP फोटू क्वालिटी देख हो जायेंगे दीवाने

    #70kmpl माइलेज और टनाटन फीचर्स के साथ Bajaj Platina धाकड़ बाइक, कीमत भी बस इतनी सी

    #70kmpl माइलेज और टनाटन फीचर्स के साथ Bajaj Platina धाकड़ बाइक, कीमत भी बस इतनी सी

    #Punch की वैल्यू कम कर देंगी Maruti की चार्मिंग लुक कार, दमदार इंजन के साथ मिलेंगे ब्रांडेड फीचर्स

    #Punch की वैल्यू कम कर देंगी Maruti की चार्मिंग लुक कार, दमदार इंजन के साथ मिलेंगे ब्रांडेड फीचर्स

    #Oppo का काम तमाम कर देंगा Vivo का धांसू स्मार्टफोन, तगड़ी कैमरा क्वालिटी और 44W फ़ास्ट चार्जर, देखे कीमत

    #Oppo का काम तमाम कर देंगा Vivo का धांसू स्मार्टफोन, तगड़ी कैमरा क्वालिटी और 44W फ़ास्ट चार्जर, देखे कीमत